उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवेज औद्योगिक विकास प्राधिकरण

यू पी डिफेंस कॉरीडोर

अलीगढ़ में 11 अगस्त, 2018 को आयोजित बैठक में उत्तर प्रदेश डिफेंस औद्योगिक उत्पादन में 3700 करोड़ से अधिक के निवेश की उद्घोषणा इस औद्योगिक कॉरीडोर का बेहतर प्रारम्भ है | माननीय रक्षा मंत्री, भारत सरकार श्रीमती निर्मला सीतारमण ने कहा कि “ हम अपनी उत्पादन सुविधाओं का प्रयोग न करके, आँख बंद कर विदेशों से आयात कर रहे हें | प्रधानमंत्री ऐसी इकाइयों को संचालित व सक्रिय बनाने व उन्हें निजी सेक्टर का लक्ष्य रखते हैं, जिससे आयात बिल में कमी लायी जा सके” | उत्तर प्रदेश सरकार ने औद्योगिक विकास विभाग के माध्यम से यूपीडा (उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवेज़ औद्योगिक विकास प्राधिकरण) को बतौर नोडल एजेंसी चयनित किया है : -

यूपी डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर हेतु सरकार द्वारा निम्न नोड्स को चयनित किया गया है:

  • डिफेंस कॉरिडोर हेतु भूमि अधिग्रहण संबंधी कार्य।
  • भारत सरकार की रक्षा नीति के निर्देशों के अनुसार विशेष उद्देश्य वाहन (एसपीवी) के माध्यम से डिफेंस कॉरिडोर का निष्पादन, क्रियान्वयन एवं स्वामित्व का कार्य।

नोड्स के चयन हेतु मानदंड निम्न प्रकार हैं:

  • कनेक्टिविटी (रोड, रेल एवं हवाई)
    • आगरा– रेल व हवाई मार्ग से सुनियोजित रूप से जुड़ा हुआ
      • आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे के माध्यम से लखनऊ से जुड़ा हुआ
      • एनएच 509 के माध्यम से अलीगढ़ से जुड़ा हुआ
      • एनएच 44 के माध्यम से झांसी से जुड़ा हुआ
    • कानपुर – रेल व हवाई मार्ग से सुनियोजित रूप से जुड़ा हुआ
      • आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे द्वारा आगरा से जुड़ा हुआ
      • एनएच 27 द्वारा लखनऊ से जुड़ा हुआ
    • चित्रकूट – रेल मार्ग से सुनियोजित रूप से जुड़ा हुआ। नजदीकी एयरपोर्ट बमरौली (प्रयागराज) 100 किमी दूर।
      • बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे से अन्य नोड्स से जुड़ा हुआ
    • लखनऊ – हवाई व रेल मार्ग एवं लखनऊ एक्सप्रेस वे के माध्यम से सुनियोजित रूप से जुड़ा हुआ।
    • झांसी – रेल मार्ग से सुनियोजित रूप से जुड़ा हुआ। झांसी में एयरपोर्ट प्रस्तावित है।
      • एनएच 44 के माध्यम से आगरा से जुड़ा हुआ
    • अलीगढ़ – दिल्ली एवं आगरा से सड़क मार्ग के माध्यम से सुनियोजित रूप से जुड़ा हुआ। आगरा में संचालित एयरपोर्ट के अतिरिक्त जेवर (नजदीक में) में एयरपोर्ट प्रस्तावित
  • सक्षम इंफ्रास्ट्रक्चर (ऊर्जा, जल, भूमि)
  • भूमि का प्रकार
  • भूमि लागत
  • जनसांख्यिकीय प्रोफाइल
प्राधिकरण ने इस परियोजना की महत्ता को ध्यान में रखते हुए 590 हेक्टेयर भूमि (भूमि का लगभग 66% भाग) झांसी व चित्रकूट में अधिग्रहित कर लिया है।
क्र .सं विषय अपलोड की तिथि फाइल देखें
  डिफेंस कॉरीडोर हेतु भूमि अधिग्रहण का विवरण साइज: 21.67KB | भाषा: Hindi 22-10-2019 फ़ाइल देखने के लिए यहां क्लिक करें
  डिफेंस कॉरीडोर हेतु भूमि अधिग्रहण का विवरण साइज: 21.59KB | भाषा: Hindi 14-10-2019 फ़ाइल देखने के लिए यहां क्लिक करें
  डिफेंस कॉरीडोर हेतु भूमि अधिग्रहण का विवरण साइज: 21.63KB | भाषा: Hindi 09-10-2019 फ़ाइल देखने के लिए यहां क्लिक करें
  डिफेंस कॉरीडोर हेतु भूमि अधिग्रहण का विवरण साइज: 21.53KB | भाषा: Hindi 30-09-2019 फ़ाइल देखने के लिए यहां क्लिक करें
  डिफेंस कॉरीडोर हेतु भूमि अधिग्रहण का विवरण साइज: 21.54KB | भाषा: Hindi 26-09-2019 फ़ाइल देखने के लिए यहां क्लिक करें
  डिफेंस कॉरीडोर हेतु भूमि अधिग्रहण का विवरण साइज: 21.57KB | भाषा: Hindi 25-09-2019 फ़ाइल देखने के लिए यहां क्लिक करें
  डिफेंस कॉरीडोर हेतु भूमि अधिग्रहण का विवरण साइज: 21.52KB | भाषा: Hindi 24-09-2019 फ़ाइल देखने के लिए यहां क्लिक करें
  डिफेंस कॉरीडोर हेतु भूमि अधिग्रहण का विवरण साइज: 21.5KB | भाषा: Hindi 23-09-2019 फ़ाइल देखने के लिए यहां क्लिक करें
  डिफेंस कॉरीडोर हेतु भूमि अधिग्रहण का विवरण साइज: 22.5KB | भाषा: Hindi 13-09-2019 फ़ाइल देखने के लिए यहां क्लिक करें
  लंदन में रक्षा और सुरक्षा उपकरण अंतर्राष्ट्रीय (DSEI) में भाग लेने के लिए उत्तर प्रदेश से उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल का दौरा। साइज: 1.98MB | भाषा: Hindi 24-09-2019 फ़ाइल देखने के लिए यहां क्लिक करें
  यह पॉलिसी प्रोत्साहन के साथ संशोधित की जा रही है तथा अनुमोदन हेतु प्रक्रियाधीन हैसाइज: 448KB | भाषा: Hindi 23-09-2019 फ़ाइल देखने के लिए यहां क्लिक करें
  ड्राफ़्ट दिशानिर्देश/डिफेंस कॉरीडोर में औद्योगिक भूखंड आवंटित करने की प्रक्रिया, यूपीडासाइज: 778KB | भाषा: Hindi 23-09-2019 फ़ाइल देखने के लिए यहां क्लिक करें